जम्मू-कश्मीर : लोकसभा चुनाव के लिए नेशनल कांफ्रेंस और कांग्रेस आ सकते हैं साथ

नई दिल्लीः लोकसभा चुनाव का बिगुल बजने के साथ सीटों को लेकर नेकां और कांग्रेस में गठबंधन के फार्मूले पर काम हो सकता है। कांग्रेस सूत्रों की मानें तो नेकां के साथ सीटों को लेकर गठबंधन पर संभावना खत्म नहीं हुई है। इसमें तीन-तीन सीटों पर राय बन सकती है। हालांकि, नेकां के सूत्रों की मानें तो मौजूदा समय में ऐसी कोई बात नहीं है। नेकां ने जम्मू-पुंछ संसदीय क्षेत्र से बीआर कुंडल को उम्मीदवार घोषित किया है।

कांग्रेस सूत्रों के अनुसार पार्टी जम्मू-पुंछ, उधमपुर-डोडा, कश्मीर नार्थ या साउथ में से एक और लद्दाख सीट लेना चाहती है। अगर गठबंधन होता है तो राज्य कीछह सीटों में से तीन-तीन पर राय बनेगी। अगले कुछ दिन में दोनों दलों की ओर से उम्मीदवारों की घोषणा की जाएगी।

कांग्रेस प्रवक्ता रवींद्र शर्मा का कहना है कि गठबंधन की संभावना खत्म नहीं हुई है, लेकिन अभी तक कोई औपचारिक बातचीत नहीं हुई है। नेकां के जम्मू संभाग के अध्यक्ष देवेंद्र सिंह राणा का कहना है कि गठबंधन पर फिलहाल कोई बात नहीं हुई है। नेकां से श्रीनगर लोकसभा सीट से डा. फारूक अब्दुल्ला सांसद हैं, जबकि कांग्रेस के खाते में कोई सीट नहीं है। इससे पहले शेख साहब के कार्यकाल में 1979-80, डा. फारूक अब्दुल्ला के कार्यकाल में 1987 और 2014 में सीटों को लेकर नेकां और कांग्रेस में गठबंधन हुआ था।

Leave a Reply