अलका लांबा ने कहा – ‘ अगर कांग्रेस से प्रस्ताव मिला तो मैं मना नहीं करूंगी ‘

नई दिल्लीः आम आदमी पार्टी (आप) से विधायक अलका लांबा के कांग्रेस में जाने की चर्चाएं फिर तेज हो गई हैं। सूत्रों के अनुसार, कांग्रेस से उनकी बातचीत लगभग अंतिम चरण में है। इस पर अलका लांबा का कहना है कि फिलहाल उनके पास कांग्रेस से कोई प्रस्ताव नहीं है। मगर प्रस्ताव आता है तो वह मना नहीं करेंगी।

चांदनी चौक से ‘आप’ विधायक अलका लांबा कांग्रेस छोड़कर अरविंद केजरीवाल के साथ जुड़ी थीं। पार्टी ने उन्हें टिकट दिया और वह विधायक बनीं। मगर, दिसंबर 2018 में दिल्ली विधानसभा में पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के भारत रत्न वापसी के एक प्रस्ताव का विरोध करने पर उनके पार्टी के शीर्ष नेतृत्व के साथ जो तकरार शुरू हुई वह अभी तक जारी है।

अलका लांबा ने कहा कि 20 साल कांग्रेस में गुजारने के बाद मैं एक आंदोलन से जुड़ी थी। मगर, मौजूदा हालात में भाजपा को हराने के लिए अगर मुझे पांच साल पुरानी आम आदमी पार्टी को छोड़ना पड़े तो मुझे इसमें कोई बुराई नहीं है। कांग्रेस से प्रस्ताव आने के बाद ही इस पर फैसला लूंगी।

Leave a Reply