उत्तर प्रदेश के जौनपुर के सरपतहां थानाक्षेत्र के एक गांव में अपना प्यार पाने के लिए युवती बन गई युवक

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के जौनपुर के सरपतहां थानाक्षेत्र के एक गांव में दो सहेलियां एक साथ जिंदगी बिताने का फैसला कर घर से भाग गईं। परिजनों ने थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस को पता चला कि दोनों अयोध्या में साथ रह रहीं हैं। सोमवार को पुलिस दोनों को थाने ले आई। बहरहाल, दोनों किशोरियों को कोर्ट में पेश करने के बाद कोर्ट के आदेश पर परिवार वालों के साथ घर भेजा गया।

क्षेत्र के एक गांव निवासी किशोरी को अपने ही रिश्ते की एक दूसरी किशोरी का साथ इतना भाया कि एक दिन मौका पाकर दोनों घर से फरार हो गईं। यह बात जब परिजनों को पता चली तो पुलिस को सूचना दी गई। तकरीबन चार दिन बाद पुलिस को दोनों की लोकेशन अयोध्या में मिली। सरपतहां पुलिस दोनों को अयोध्या से बरामद कर थाने ले आई। दोनों किशोरियों में से एक ने पुरुष वेशभूषा बना रखी थी तो दूसरी परंपरागत रूप से लड़कियों के परिधान में थी। थाने पर दोनों के परिवार वालों के सामने उन्हें समझाने का प्रयास किया गया लेकिन वे साथ रहने की जिद पर अड़ीं रहीं। कोई रास्ता न देख पुलिस ने उन्हें कोर्ट में पेश किया। ताकि आगे की कार्रवाई कोर्ट के आदेश पर हो।

कोर्ट में मजिस्ट्रेट ने दोनों को समझाया कि अभी आप दोनों नाबालिग हैं। इसलिए अपनी मर्जी से कुछ नहीं कर सकतीं। यहां तक की शादी भी नहीं हो सकती। इसलिए अभी घर वाले जो कहते हैं कीजिये। कोर्ट के समझाने पर दोनों मान गईं और घर जाने पर राजी हुईं। दोनों के राजी होते ही परिवार वालों की जान में जान आई। उधर, मामले के संबंध में प्रभारी निरीक्षक विजय कुमार चौरसिया ने कहा कि दोनों किशोरियां साथ रहने की जिद पर अड़ी थीं। शादी जैसी कोई बात नहीं थी। फिर भी उन्हें मजिस्ट्रेट के सामने पेशकर 161 के तहत बयान दर्ज कराया गया। फिलहाल दोनों को उनके परिवार वालों के साथ भेज दिया गया है।

Leave a Reply