मेट्रो, बस में मुफ्त सफर पर दिल्ली सरकार को सात दिन में ई-मेल से 3700 सुझाव

नई दिल्लीः मेट्रो, बस में मुफ्त सफर पर दिल्ली सरकार को बीते 7 दिनों में 3700 सुझाव मिले हैं। यह सुझाव सरकार की ओर से की गई अपील के बाद जनता की ओर से ई-मेल पर भेजे गए है।

जनता के इस प्रतिक्रिया को देखते हुए अब सुझाव देने की अंतिम तारीख में 15 दिन की बढ़ोतरी कर दी है। अब कोई भी दिल्ली सरकार को मुफ्त सफर की योजना को लागू करने के लिए अपना सुझाव 15 जून के बजाएं 30 जून तक भेज सकता है। दरअसल मुख्यमंत्री अर्रंवद केजरीवाल ने बीते 3 जून को मुफ्त सफर की योजना की घोषणा के साथ उसे लागू करने के लिए जनता से सुझाव मांगे थे। उसके लिए ई-मेल आईडी भी जारी किया गया था। घोषणा के बाद से दिल्ली सरकार को लगातार सुझाव आने का सिलसिला जारी है। दिल्ली डायलाग एंड डेवलपमेंट कमीशन सभी सुझावों का अध्ययन कर रहा है। उसके बाद पूरी रिपोर्ट सरकार को सौपेंगे।सूत्रों की मानें तो मंगलवार को मनीष सिसोदिया डीएमआरसी, परिवहन अधिकारियों के साथ अब तक तैयार प्रस्तावों की समीक्षा के साथ चर्चा करेंगे।

प्रवेश निकास दिल्ली में तभी महिलाओं को फायदा

एनसीआर की महिलाओं को इसका लाभ मिलेगा की नहीं इसे लेकर अभी तक अंतिम निर्णय नहीं लिया गया है। मगर सूत्र बताते हंै कि सरकार इस विकल्प पर विचार कर रही है कि मेट्रो में सफर करने वाली महिला का प्रवेश या निकास कोई एक दिल्ली में होना चाहिए। तभी फायदा मिलेगा। हालांकि परिवहन मंत्री कैलाश गहलौत का कहना है कि डीएमआरसी के मुताबिक एनसीआर के शहरों से सफर करने वाली महिलाओं की संख्या मेट्रो के कुल यात्रियों की संख्या का 4 से 5 फीसदी होता है। इसलिए अगर जरूरत पड़ी तो सरकार उन्हें मुफ्त सफर का फायदा देगी। हालांकि हम दूसरे विकल्पों पर भी विचार कर रहे हैं।

Leave a Reply