डोकलाम में चीन ने फिर शुरू किया सड़क निर्माण कार्य

डोकलाम में चीन ने फिर शुरू किया सड़क निर्माण कार्य
डोकलाम में चीन ने फिर शुरू किया सड़क निर्माण कार्य

भारतीय सेना के दखल के बाद डोकलाम में सड़क बनाने में नाकाम रही चीनी सेना ने एक बार फिर से पहले से ही मौजूद सड़क पर नए सिरे से काम शुरू किया है, जो उस जगह से थोड़ी ही दूरी पर है जहां दोनो देशों की सेनाएं आमने सामने थी।

बता दें कि डोकलाम इलाके को भूटान और चीन दोनों ही अपना अपना इलाका बताते हैं और भारत भूटान का समर्थन करता है। जून के मध्‍य में भारतीय सैनिकों ने सिक्किम में सीमा पार कर चीनी सड़क निर्माण का काम रोक दिया था। यह सड़क भारत के लिए भू-सामरिक दृष्टिकोण से महत्‍वपूर्ण भारतीय जमीन के उस टुकड़े के पास बन रही थी जिसे ‘चिकन नेक’ के नाम से जाना जाता है। यह इलाका भारत को इसके उत्तर-पूर्वी राज्‍यों से जोड़ता है। इस विवाद को लेकर करीब 70 दिनों तक दोनों देशों की सेनाएं एक-दूसरे के आमने-सामने रही थीं। लेकिन बाद में बातचीत के बाद दोनों ही देशों ने इलाके से अपनी अपनी सेना पीछे करने की बात स्‍वीकारी थी।

उस वक्‍त अधिकारियों ने दिल्‍ली में कहा था कि चीन ने अपने बुल्‍डोजर और सड़क बनाने का अन्‍य सामान हटा लिया है। चीनी अधिकारियों ने कहा था कि सड़क निर्माण का काम मौसम के हालात पर निर्भर करेगा। अब, पिछले विवादित स्‍थल से महज 10 किलोमीटर की दूरी पर चीन ने एक वर्तमान रास्‍ते को चौड़ा करना शुरू किया है और इस तरह विवादित डोकलाम पठार पर अपना दावा और मजबूत कर कर रहा है।

अपने पिछले प्रयास में निराशा हाथ लगने के बाद चीन ने अब सड़क निर्माण का सारा सामान विवादित स्‍थल के पूर्व और उत्तर की ओर पहुंचा दिया है। सड़क निर्माण करने वाले कामगारों को इलाके में ले आया गया है जिनके साथ 500 चीनी सैनिक भी हैं, हालांकि ऐसे कोई संकेत नहीं हैं कि ये सैनिक इलाके में स्‍थायी रूप से रहेंगे।

एक महीने पहले भारतीय सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने चेतावनी दी थी, ‘जहां तक उत्तरी विरोधी का संबंध है, तो चीन ने अपनी ताकत दिखाना शुरू किया है। ‘सलामी स्लाइसिंह’, यानी धीरे-धीरे भूभाग पर कब्जा करना, और दूसरे की सहने की क्षमता को परखना, चिंता का विषय है। हमें इस प्रकार की धीरे-धीरे उभरती स्थिति के लिए तैयार रहना चाहिए.’ ऐसा लगता है कि सेना प्रमुख का इशारा चीन की ऐसी ही हरकतों की तरफ था।

About Author:

Leave a Reply